हाइलाइट्स

जसप्रीत बुमराह की गैरहाजिरी में कौन करेगा पेस आक्रमण की अगुआई?
मोहम्मद शमी या दीपक चाहर? कौन होगा बुमराह रिप्लेसमेंट
भारतीय तेज गेंदबाजों को ऑस्ट्रेलिया में खेलने का अनुभव कम

नई दिल्ली. टीम इंडिया ने दक्षिण अफ्रीका को तिरुवनंतपुरम में हुए पहले टी20 में बड़ी आसानी से 8 विकेट से हराया. पहली 15 गेंद में ही मैच भारत की मुठ्ठी में आ गया था. जसप्रीत बुमराह और भुवनेश्वर जैसे सीनियर गेंदबाजों की गैरहाजिरी में दीपक चाहर और अर्शदीप सिंह ने नई गेंद संभाली और मैच शुरू होने के 20 मिनट में ही दक्षिण अफ्रीका की आधी टीम को पवेलियन की राह दिखा दी. अर्शदीप (3/32) और दीपक (2/24) ने नई गेंद से शानदार स्विंग गेंदबाजी की. इस जोड़ी को बीच़ के ओवर में हर्षल पटेल (2/26) का अच्छा साथ मिला. इस मैच में भारत का पेस अटैक असरदार नजर आया. हालांकि, ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 विश्व कप में इस तरह की कंडीशन और विकेट मिलेंगे, ऐसा शायद ही हो. लेकिन, भारतीय टीम मैनेजमेंट इसे लेकर खुश होगा कि कैसे युवा तेज गेंदबाजों ने तिरुवनंतपुरम में कंडीशंस का फायदा उठाया.

इसमें कोई शक नहीं कि ऑस्ट्रेलिया के विकेटों पर तेज गेंदबाजों के लिए उछाल होगा. हालांकि, इसका फायदा सिर्फ गेंदबाज ही नहीं, बल्कि बल्लेबाज भी उठा पाएंगे. गेंद बल्ले पर और बेहतर तरीके से आएगी. ऐसे में शॉट खेलना ज्यादा आसान होगा. हालांकि, यह कंडीशंस भारतीय पेस बैट्री के लिए अगल तरह की चुनौती पेश करेगी.

भुवनेश्वर के कंधों पर होगी बड़ी जिम्मेदारी
जसप्रीत बुमराह के स्ट्रेस फ्रैक्चर के कारण टी20 विश्व कप से बाहर होने की खबर भारत की उम्मीदों के लिए बड़ा झटका है. बुमराह की गैरहाजिरी में कौन भारतीय पेस आक्रमण की कमान संभालेगा? भारतीय टीम मैनेजमेंट के सामने यह सबसे बड़ा सवाल है. भुवनेश्वर कुमार सीनियर गेंदबाज हैं. ऐसे में वो यह जिम्मेदारी संभाल सकते हैं.

भुवनेश्वर को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टी20 सीरीज से आराम दिया गया है. उनका हालिया फॉर्म बहुत अच्छा नहीं है. भुवनेश्वर लगातार डेथ ओवर में टीम की परेशानी बढ़ाते नजर आए हैं. उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टी20 सीरीज के 2 मैच में 7 ओवर में 13 की इकोनॉमी रेट से 91 रन दिए थे. इस सीरीज में उन्हें महज 1 ही विकेट मिला था.

भुवनेश्वर ने ऑस्ट्र्रेलिया में महज 3 टी20 खेले हैं. वहां कंडीशंस स्विंग गेंदबाजी के बहुत मुफीद नहीं होगी. ऐसे में भुवनेश्वर टी20 विश्व कप के दौरान कितने असरदार होंगे, यह देखना होगा.

अर्शदीप ने डेथ ओवर में अच्छी गेंदबाजी की है
अगर बुमराह टी20 विश्व कप नहीं खेलते हैं तो डेथ ओवर स्पेशलिस्ट के तौर पर अर्शदीप सिंह को प्लेइंग-XI में मौका मिल सकता है. अर्शदीप ने इसी साल जुलाई में टी20 डेब्यू किया है. उन्होंने अब तक12 मैच ही खेले हैं. लेकिन, एक गेंदबाज के तौर पर हर मैच के साथ बेहतर होते चले गए हैं. वो डेथ ओवर में अच्छी गेंदबाजी कर रहे हैं और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तिरुवनंतपुरम टी20 में उन्होंने यह दिखाया कि वो नई गेंद से भी कितने असरदार साबित हो सकते हैं. वो गेंद को अंदर और बाहर दोनों तरफ आसानी से स्विंग करा रहे हैं.

अगर ऑस्ट्रेलिया में कंडीशंस थोड़ी भी स्विंग गेंदबाजी के माकूल रही तो बाएं हाथ का पेसर होने के नाते अर्शदीप काफी असरदार साबित हो सकते हैं. हालांकि, अर्शदीप भी पहली बार ऑस्ट्रेलिया में खेलेंगे. ऐसे में उनके लिए टी20 विश्व कप बड़ी चुनौती होगा.

हर्षल के पास ऑस्ट्रेलिया में खेलने का अनुभव नहीं
हर्षल पटेल भी टी20 के स्पेशलिस्ट खिलाड़ी हैं. वो गेंद के साथ-साथ बल्ले से भी योगदान दे सकते हैं. लेकिन, अर्शदीप की तरह उन्हें भी ऑस्ट्रेलिया में खेलने का अनुभव नहीं है. वो भी पहली बार वहां खेलेंगे. अब यह देखने होगा कि उनकी स्लोअर गेंद ऑस्ट्रेलिया की उछाल भरी विकेटों पर क्या कमाल दिखा पाती हैं.

क्या बीसीसीआई की लापरवाही या जल्दबाजी? जसप्रीत बुमराह के टी20 विश्व कप से बाहर होने का कौन जिम्मेदार?

चाहर या शमी? कौन होगा बुमराह का रिप्लेसमेंट
भारतीय टीम मैनेजमेंट के सामने  एक सवाल यह भी है कि बुमराह का रिप्लेसमेंट कौन होगा? दीपक चाहर और मोहम्मद शमी स्टैंडबाय खिलाड़ी के रूप में हैं. चाहर नई गेंद के साथ अच्छी गेंदबाजी कर सकते हैं और निचले क्रम में बड़े शॉट्स भी लगा सकते हैं. लेकिन, उनकी बॉलिंग का स्टाइल काफी हद तक भुवनेश्वर कुमार से मेल खाता है.

ऐसे में मोहम्मद शमी बुमराह के रिप्लेसमेंट के रूप में बेहतर विकल्प हो सकते हैं. लेकिन, उनके साथ परेशानी यह है कि वो उन्होंने पिछले साल टी20 विश्व कप के बाद से इस फॉर्मेट में मैच नहीं खेला है.

खिलाड़ियों की चोट ने बढ़ाई भारत की चिंता, क्या टीम इंडिया के लिए खत्म हो गया T20 वर्ल्ड कप?

उन्हें ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ चुनी गई टी20 टीम में जगह तो मिली थी. लेकिन, कोरोना के कारण वो सीरीज से बाहर हो गए. हालांकि, अब उनकी कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आ गई है. अब यह देखना होगा कि सेलेक्टर्स क्या फैसला करते हैं. क्योंकि टी20 विश्व कप से पहले अब भारत को दो ही मैच खेलने हैं.

Tags: Arshdeep Singh, Bhuvneshwar kumar, Deepak chahar, Jasprit Bumrah, T20 World Cup, T20 World Cup 2022

Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.