Sunil Dutt Life Facts: भारत-पाकिस्तान के बंटवारे के दंगों से बचकर सुनील दत्त (Sunil Dutt) अपने परिवार के साथ दोबारा घर बसा चुके थे. जब जय हिंद कॉलेज में दाखिला लिया तो दमदार आवाज और उर्दू में अच्छी पकड़ होने पर इन्हें कॉलेज के रेडियो में काम मिल गया. पैसों की कमी से गुजारा होना मुश्किल था तो सुनील भी झट से मान गए. रेडियो के लिए इन्हें कई नरगिस, निम्मी, देव आनंद जैसे उस जमाने के नामी सितारों का इंटरव्यू लेने का मौका मिला. एक दिन दिलीप कुमार का इंटरव्यू लेने सुनील को शिकस्त के सेट पर जाना पड़ा. यहां बैठकर दिलीप साहब का इंतजार ही कर रहे थे कि डायरेक्टर रमेश सहगल की उनपर नजर पड़ गई.

लंबी कद काठी और भारी आवाज वाला नौजवान इंटरव्यू के लिए इंतजार कर रहा था, लेकिन रमेश उनके चेहरे में अपना अगला हीरो तलाश कर रहे थे. रमेश ने झट से पूछ लिया, क्या मेरी फिल्म में काम करोगे. सुनील के पास न करने की कोई वजह नहीं थी. रमेश इतने उतावले थे कि उन्होंने सेट पर ही सुनील को दिलीप कुमार (Dilip Kumar) की कॉस्ट्यूम पहना दी और स्क्रीन टेस्ट ले लिया. पहले से थिएटर का हिस्सा रहे सुनील को एक्टिंग की समझ थी तो बात वहीं फाइनल हो गई. सुनील, 1955 की फिल्म रेलवे प्लेटफॉर्म से फिल्मों में आए और लोगों का दिल जीत लिया. कई फिल्में काम करने के बाद इन्हें मदर इंडिया से देशभर में खूब पॉपुलैरिटी हासिल हुआ. 

कॉलेज के दिनों में रेडियो के लिए काम करते हुए सुनील को नरगिस का भी इंटरव्यू लेने का मौका मिला. लेकिन उस समय एक मामूली शख्सियत होने के कारण घबराहट में सुनील उस समय की सबसे कामयाब एक्ट्रेस नरगिस से सवाल ही नहीं कर पाए. 1958 में इन्हें मदर इंडिया में साथ काम करने का मौका मिला.


फिल्म में तो दोनों मां-बेटे के रोल में थे, लेकिन सेट पर हुआ हादसा इन्हें करीब ले आया. सेट पर लगी आग में नरगिस फंस गईं और सुनील कुछ सोचे बिना आग में कूदकर हीरो की तरह उन्हें बाहर निकाल आए. सुनील बुरी तरह झुलस गए लेकिन इस हिम्मत उन्होंने नरगिस का दिल जीत लिया. एक साल बाद दोनों ने शादी कर ली.

Salman Khan Bodyguard: सलमान खान को हर खतरे से बचाते हैं बॉडीगार्ड शेरा, सालाना कमाई सुन दंग रह जाएंगे!

Mahima Chaudhry: नए वीडियो में फिर छलके महिमा चौधरी के आंसू, कैंसर के बाद बदले लुक पर कही ये बड़ी बात

Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.