नई दिल्ली. युवा सलामी बल्लेबाज यशस्वी जायसवाल की 100 रन की पारी से मुंबई ने रणजी ट्रॉफी सेमीफाइनल में मंगलवार को पहले दिन का खेल खत्म होने तक पांच विकेट पर 260 रन बना लिये.
जायसवाल ने 227 गेंद की पारी में 15 चौके जड़े. उन्होंने इस दौरान तीन अर्धशतकीय साझेदारियां की. उन्होंने सुवेद पारकर (32) के साथ तीसरे विकेट के लिए 63, शानदार लय में चल रहे सरफराज खान (40) के साथ चौथे विकेट के लिए 83 और विकेटकीपर हार्दिक तामोरे (नाबाद 51) के साथ पांचवें विकेट के लिए 63 रन की साझेदारियां निभाकर टीम को बेहतर स्थिति में पहुंचाया. उत्तर प्रदेश के कप्तान करण शर्मा ने टॉस जीतकर गेंदबाजी का फैसला किया जिसे तेज गेंदबाज यश दयाल (35 रन पर दो विकेट) ने मुंबई के कप्तान पृथ्वी शॉ को खाता खोले बगैर पवेलियन भेजकर सही साबित किया.

शिवम मावी (29 रन पर एक विकेट) ने इसके बाद पारी के 15वें ओवर में अरमान जाफर (10 रन) को आउट कर उत्तर प्रदेश को दूसरी सफलता दिलायी. पिछले मैच में पदार्पण पर दोहरा शतक जड़ने वाले पारकर एक बार फिर बड़ी पारी खेलने की ओर बढ़ रहे थे लेकिन दयाल ने उन्हें सौरव कुमार के हाथों कैच कराकर उनकी 98 गेंद की पारी का अंत किया. जायसवाल दूसरे छोर से संभल कर बल्लेबाजी कर रहे थे और उन्होंने अपनी पारी की 150वें गेंद पर एक रन लेकर अर्धशतक पूरा किया.

सरफराज खान ने 52 गेंद की पारी के दौरान पांच चौके जड़े और टीम की रन गति को तेज किया. वह हालांकि करण शर्मा (39 रन पर दो विकेट) के खिलाफ रिवर्स स्वीप लगाने के चक्कर में अपना विकेट गंवा बैठे. जायसवाल को इसके बाद तामोरे का अच्छा साथ मिला और दोनों ने उत्तर प्रदेश के गेंदबाजों को ज्यादा मौके नहीं दिये. जायसवाल ने पारी की 226वीं गेंद पर प्रथम श्रेणी क्रिकेट का अपना दूसरा शतक पूरा किया. वह हालांकि करण शर्मा की अगली ही गेंद पर विकेटकीपर  को कैच थमा दिया. दिन का खेल खत्म होते समय तामोरे के साथ शम्स मुलानी 10 रन बनाकर बल्लेबाजी कर रहे थे.

हिमांशु के नाबाद शतक से मध्य प्रदेश शुरुआती झटकों से उबरा
बायें हाथ के बल्लेबाज हिमांशु मंत्री ने अपने प्रथम श्रेणी करियर का पहला शतक जमाया जिससे मध्य प्रदेश ने बंगाल के खिलाफ रणजी ट्रॉफी सेमीफाइनल के पहले दिन मंगलवार को यहां शुरुआती झटकों से उबरकर छह विकेट पर 271 रन बनाये. हिमांशु 134 रन बनाकर क्रीज पर डटे हुए हैं। इस 28 वर्षीय बल्लेबाज ने अपनी पारी में अब तक 280 गेंदों का सामना करके 15 चौके और एक छक्का लगाया है.

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी के लिये उतरे मध्य प्रदेश की शुरुआत अच्छी नहीं रही तथा मुकेश कुमार (45 रन देकर दो विकेट) की शानदार गेंदबाजी से एक समय उसका स्कोर चार विकेट पर 97 रन था. हिमांशु को यहीं से अक्षत रघुवंशी के रूप में अदद जोड़ीदार मिला। इन दोनों ने पांचवें विकेट के लिये 123 रन की साझेदारी की. रघुवंशी ने तेज गेंदबाज आकाशदीप (55 रन देकर दो) की गेंद पर पगबाधा आउट होने से पहले 63 रन बनाये, जिसमें आठ चौके और दो छक्के शामिल हैं. आकाशदीप ने इसके बाद सारांश जैन (17) को बोल्ड किया। स्टंप उखड़ने के समय हिमांशु के साथ पुनीत दुबे नौ रन पर खेल रहे थे. बंगाल की तरफ से शाहबाज अहमद और प्रदीप्त प्रमाणिक ने भी एक-एक विकेट लिया.

अधिक पढ़ें …

Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.