नई दिल्ली. इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 5 साल के मीडिया राइट्स के लिए 48,390 करोड़ रुपए के राजस्व हासिल करने के बावजूद बीसीसीआई सचिव जय शाह आश्चर्यचकित नहीं है. उन्होंने जोर देकर कहा कि क्रिकेट की सबसे चर्चित टी20 लीग में के पास और योगदान देने की क्षमता है. शाह ने कहा कि इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल के अगले फ्यूचर टूर प्रोग्राम (FTP) में आईपीएल के लिए ढाई महीने का विंडो होगा. आईपीएल मीडिया राइट्स  के लिए आक्रामक बोली के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि हमने जिस तरह के आंकड़े हासिल किए हैं, उससे मैं वास्तव में खुश हूं. यह भारतीय क्रिकेट की अभूतपूर्व विकास क्षमता को दर्शाता है.

जय शाह ने पीटीआई-भाषा से खास बातचीत में कहा, ‘डिजिटल इंडिया को बढ़ावा देने से भारत में क्रिकेट को देखने के तरीके को बदल दिया है. इसका प्रमाण डिजिटल अधिकारों की बोली में देखने को मिला.’ बीसीसीआई ने इस बार मीडिया अधिकार के लिए आधार मूल्य 32,500 करोड़ रुपए रखा था, जो 5 साल पहले के मुकाबले दोगुना था और शाह इससे अधिक रकम हासिल करने को लेकर आश्वस्त थे. उन्होंने कहा कि बीसीसीआई को कभी नहीं लगा कि आधार मूल्य बहुत ज्यादा है. आपको यह समझने की जरूरत है कि 2018 में साल के 60 मैच थे. अगले चक्र के लिए हमारे पास 410 मैच होंगे.

बढ़ रहे हैं डिजिटल फैंस

उन्होंने का कि आपको डिजिटल प्रभावों को भी जांच करने की आवश्यकता है. 2017 में लगभग 56 करोड़ डिजिटल फैंस थे और 2021 में यह संख्या 66.5 करोड़ हो गई. आप आने वाले वर्षों में इसके और भी बढ़ने की उम्मीद करते हैं. 2027 में आईपीएल में 94 मैच खेले जाएंगे और इसके मैनेजमेंट और इंटरनेशनल क्रिकेट पर इसके असर के बारे में शाह ने कहा कि यह एक ऐसा पहलू है, जिस पर हमने काम किया है. आपको बता दें कि अगले आईसीसी एफटीपी कैलेंडर से आईपीएल में ढाई महीने की आधिकारिक विंडो होगी, ताकि सभी टॉप इंटरनेशनल क्रिकेटर भाग ले सकें. हमने विभिन्न बोर्डों के साथ-साथ आईसीसी के साथ भी चर्चा की है.

इंटरनेशनल क्रिकेट के लिए प्रतिबद्ध

आईपीएल की दर्शक संख्या में 30 प्रतिशत गिरावट की बातों को खारिज करते हुए उन्होंने कहा कि 2020 और 2021 में आईपीएल की व्यूअरशिप बहुत अधिक इसलिए थी, क्योंकि कोविड-19 के दौर में क्रिकेट का सीधा प्रसारण मनोरंजन का अच्छा माध्यम था. इस साल जब कोविड-19 का असर कम हुआ, तो लोग घर से बाहर निकलने लगे. लेकिन इससे व्यूअरशिप में कोई कमी नहीं आई. लोगों ने रेस्टोरेंट और पब जैसी जगहों पर मैचों का लुत्फ उठाया. डिजिटल माध्यमों में दर्शकों की संख्या काफी बढ़ी है. आईपीएल के लंबे सीजन के कारण भारत का इंटरनेशनल क्रिकेट प्रभावित होगा, लेकिन शाह ने कहा कि बीसीसीआई इंटरनेशनल क्रिकेट को लेकर प्रतिबद्ध है.

IPL Media Rights: वायकॉम 18 को मिले आईपीएल के मीडिया राइट्स, स्टार को फिर मौका

उन्होंने कहा कि भारतीय क्रिकेट तब तक मजबूत रहेगा, जब तक वर्ल्ड क्रिकेट मजबूत रहेगा. मैं आपको इसका आश्वासन देता हूं. बीसीसीआई इंटरनेशनल क्रिकेट के लिए प्रतिबद्ध है और यह केवल भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया या भारत बनाम इंग्लैंड जैसी बड़ी सीरीज के बारे में नहीं है. हम छोटे देशों के साथ भी खेलने के लिए प्रतिबद्ध हैं. सभी फॉर्मेट में सभी द्विपक्षीय इंटरनेशनल प्रतिबद्धताओं का सम्मान किया जाएगा. हम इसी महीने आयरलैंड के खिलाफ 2 टी20 इंटरनेशनल मैच खेल रहे हैं.

Tags: BCCI, ICC, IPL, Jay Shah, Sourav Ganguly

Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.