हाइलाइट्स

1 अक्टूबर से आईसीसी के नए नियम लागू हुए हैं.
गुवाहाटी टी20 में इन नियमों को अमल नहीं लाया गया.
ऐसा करने के पीछे की असली वजह क्या थी.

नई दिल्ली. भारत और साउथ अफ्रीका के बीच तीन मैचों की टी20 सीरीज का दूसरा मुकाबला गुवाहाटी में रविवार (2अक्टूबर) को खेला गया. भारत ने यहां केएल राहुल और सूर्यकुमार यादव की धमाकेदार बल्लेबाजी के दम पर 237 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया। मेहमान टीम ने जबरदस्त चुनौती पेश की लेकिन 221 रन के स्कोर तक ही पहुंच पाई. 16 रन से मुकाबला अपने नाम कर भारत ने 2-0 की अजेय बढ़त हासिल की.

इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 अक्टूबर से आईसीसी के नए नियमों को लागू किया गया. कुल 8 नियम जिनको इस साल हरी झंडी दी गई. इसमें से एक नियम यह है कि बल्लेबाज अगर कैच आउट होता है तो नया बैटर ही आकर स्ट्राइक लेगा. भारत और साउथ अफ्रीका के बीच खेले गए मुकाबले में यह नियम लागू नहीं हुआ. इस बात को लेकर कई लोग सोच में पड़ गए. तो जिनको मालूम नहीं है ऐसा क्योंकि हुआ हम बताए देते हैं.

क्या हुआ भारत- साउथ अफ्रीका मैच में

साउथ अफ्रीका जब भारत से मिले 238 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी तो उसे दो शुरुआती झटके लगे. जो दूसरा विकेट गिरा इसमें रेली रोसो के कैच पकड़े जाने तक क्विंटन डिकॉक ने उनको क्रॉस कर लिया था. अब नया नियम कहता है कि अगर बल्लेबाजों ने एक दूसरे को क्रॉस कर लिया है फिर भी मैदान पर उतरने वाला नया बल्लेबाज ही स्ट्राइक लेगा लेकिन एडन मारक्रम की जगह स्ट्राइक डिकॉक ने ली.

क्यों नहीं लागू हुआ नया नियम

अब हम आपको बताते हैं कि आखिर इस मैच में आईसीसी का नया नियम क्यों नहीं लागू किया गया. दरअसल यह नियम 1 अक्टूबर से लागू किए गए हैं और भारत-साउथ अफ्रीका टी20 सीरीज 28 सितंबर को शुरू हुई थी. आईसीसी के नए नियम बीच सीरीज में लागू नहीं होते हैं इसलिए इसे गुवाहाटी टी20 में अमल में नहीं लाया गया.

Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.