हाइलाइट्स

दक्षिण अफ्रीका ने तीसरे टी20 में भारत को हराया
रोहित शर्मा और श्रेयस अय्यर बड़ी पारी नहीं खेल पाए
डेथ ओवर में एक बार फिर भारतीय गेंदबाज रहे फेल

नई दिल्ली. दक्षिण अफ्रीका को अपने घर में टी20 सीरीज में क्लीन स्वीप करने का टीम इंडिया का सपना पूरा नहीं हो पाया. इंदौर में खेले गए टी20 सीरीज के तीसरे और आखिरी मुकाबले में मेहमान टीम ने भारत को हरा दिया. इसके साथ ही 3 मैच की सीरीज टीम इंडिया ने 2-1 से अपने नाम की. भारत पहली बार घर में दक्षिण अफ्रीका से टी20 सीरीज जीता है. इस हार के साथ ही इंदौर में टीम इंडिया के अब तक कोई मुकाबला न हारने का सिलसिला भी थम गया. आखिर लगातार दो टी20 जीतने के बाद क्यों टीम इंडिया क्लीन स्वीप का मौका चूक गई. टीम की हार की क्या वजहें रहीं. यह जानते हैं.

टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी चुनना
भारतीय कप्तान रोहित शर्मा ने तीसरे टी20 में टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी चुनी जबकि विकेट बल्लेबाजी के लिए अच्छा था. ऐसे में दक्षिण अफ्रीका को बल्लेबाजी का न्योता देना भारत को भारी पड़ा. अफ्रीकी बल्लेबाजों ने बल्लेबाजी के लिए मुफीद विकेट पर 20 ओवर में 227 रन ठोक डाले. केएल राहुल और विराट कोहली जैसे खिलाड़ियों की गैरमौजूदगी में इतने बड़े लक्ष्य का पीछा करना आसान नहीं था. यही टीम इंडिया के साथ भी हुआ. रोहित शर्मा के जल्दी आउट होते ही भारतीय पारी लड़खड़ा गई आखिर में भारत मैच हार गया.

विकेट निकालने में नाकाम रहे भारतीय गेंदबाज
दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीसरे टी20 में भारतीय गेंदबाज विकेट निकालने में नाकाम रहे. उमेश यादव ने टेम्बा बावुमा को आउट कर भारत को पहली सफलता दिलाई. उस समय दक्षिण अफ्रीका का स्कोर 30 रन था. अगर इस टीम इंडिया एक-दो विकेट और निकाल लेती तो दक्षिण अफ्रीका को दबाव में लाया जा सकता था. लेकिन, भारतीय गेंदबाजों ने सधी हुई लाइन लेंथ से गेंदबाजी नहीं की. इसका खामियाजा टीम इंडिया को उठाना पड़ा और रिले रुसो और क्विंटन डिकॉक की जोड़ी ने ताबड़तोड़ बल्लेबाजी की और दूसरे विकेट के लिए 47 गेंद में 89 रन जोड़ते हुए दक्षिण अफ्रीका के लिए बड़े स्कोर की नींव रख दी. दक्षिण अफ्रीका के तीन विकेट गिरे. इसमें से दो विकेट ही सिर्फ भारतीय गेंदबाजों ने लिए. एक बल्लेबाज रन आउट हुआ.

डेथ ओवर में फिर निकला गेंदबाजों का दम
एशिया कप से डेथ ओवर को लेकर जो परेशानी शुरू हुई है, वो टीम इंडिया का पीछा छोड़ने का नाम नहीं ले रही है. अर्शदीप सिंह के चोटिल होने के कारण इंदौर टी20 में डेथ ओवर गेंदबाज के रूप में भारत के पास हर्षल पटेल सबसे बेहतर विकल्प थे. लेकिन उन्होंने 4 ओवर में 49 रन दिए. हर्षल ने दक्षिण अफ्रीका की पारी का 18वां ओवर फेंका. उनके इस ओवर में 15 रन आए. दक्षिण अफ्रीका की पारी का आखिरी ओवर दीपक चाहर ने डाला और वो भी मंहगे साबित हुए. उनके इस ओवर में डेविड मिलर ने 3 छक्के मारे. इस ओवर में कुल 24 रन आए. भारत ने आखिरी पांच ओवर में 73 रन लुटाए.

IND vs SA: 2 मैच में खाता तक नहीं खोल पाया, अब जड़ा तूफानी शतक; भारत को मिला 228 रन का लक्ष्य

भारत की शुरुआत खराब रही
केएल राहुल की गैरमौजूदगी में रोहित शर्मा के साथ ऋषभ पंत ने पारी की शुरुआत की. लेकिन, रोहित कैगिसो रबाडा की दूसरी ही गेंद पर क्लीन बोल्ड हो गए. वो खाता तक नहीं खोल पाए. विराट कोहली की जगह तीसरे नंबर पर आए श्रेयस अय्यर भी अगले ही ओवर में आउट हो गए. उन्होंने 1 रन बनाया. भारत ने दो ओवर में ही 2 विकेट गंवा दिए. 228 रन के टारगेट का पीछा करते हुए इस तरह की शुरुआत के बाद लक्ष्य तक पहुंचना मुश्किल होता है. टीम इंडिया के साथ भी ऐसा ही हुआ.

Legends League Cricket में 4 करोड़ की प्राइज मनी दांव पर, जानिए चैम्पियन टीम को कितनी राशि मिलेगी

सूर्यकुमार यादव नहीं चले
दो विकेट जल्दी गंवाने के बाद मिडिल ऑर्डर के बल्लेबाजों से बड़ी पारी की उम्मीद थी. लेकिन दिनेश कार्तिक (46) को छोड़ दें तो कोई बल्लेबाज ऐसा नहीं कर पाया. लगातार दो अर्धशतक लगाने वाले सूर्यकुमार भी 6 गेंद में 8 रन बनाकर आउट हो गए. उनके आउट होने के बाद भारतीय बल्लेबाजी में गहराई नहीं थी और इसका भारत को खामियाजा उठाना पड़ा.

Tags: Harshal Patel, India vs South Africa, Rohit sharma, Shreyas iyer, Team india

Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.