नई दिल्ली. इंग्लैंड ने मौजूदा टेस्ट चैंपियन न्यूजीलैंड को 3-0 सीरीज हरा दिया है. इस सीरीज में इंग्लैंड बेहद आक्रामक क्रिकेट खेला. इस जीत के बाद टीम के हौसले बहुत बुलंद है. अब इंग्लैंड का मुकाबला 1 जुलाई को भारतीय टीम से होने वाला है. जहां इंग्लैंड न्यूजीलैंड को हराकर आत्मविश्वास से लबरेज है वहीं भारतीय टीम ने मार्च के बाद से कोई टेस्ट मैच नहीं खेला है. मार्च में टीम इंडिया ने श्रीलंका को 2-0 से हराया था. इसलिए इंग्लैंड की टीम बर्मिंघम में भारतीय टीम के सामने कड़ी चुनौती पेश कर सकती है.

‘इंग्लैंड का पलड़ा होगा भारी’
इंग्लैंड के पूर्व स्पिनर ग्रीम स्वान का मानना है कि इस मैच में भारतीय टीम पर इंग्लैंड की टीम पर भारी पड़ सकती है. स्वान का मानना है कि भारतीय टीम ने 4 महीने से कोई टेस्ट नहीं खेला है और इसका नुकसान उन्हें हो सकता है वहीं वर्तमान में मूमेंटम इंग्लिश टीम के साथ है.

यह भी पढ़ें : इंग्लैंड-वेस्टइंडीज की जीत के बाद बदला वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का गणित, जानें भारत कौन से स्थान पर

यह भी पढ़ें :  IND vs ENG: रोहित शर्मा की गैरमौजूदगी में किसे करनी चाहिए टीम इंडिया की कप्तानी? पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर ने बताया

‘आक्रामक क्रिकेट खेल रही इंग्लैंड’

स्वान का कहना है कि इंग्लैंड की टीम अभी आक्रामक क्रिकेट खेल रही है. टीम के कप्तान बेन स्टोक्स टेस्ट में 100 छक्के लगाने वाले पहले इंग्लिश बल्लेबाज बन गए हैं. वहीं इंग्लैंड के पूर्व कप्तान जो रूट भी जबरदस्त लय में है.

हालांकि टेस्ट चैंपियनशिप में टीम इंडिया की स्थिति इंग्लैंड से बेहतर है. भारत तीसरे स्थान पर है. टीम का विनिंग पर्सेंट 58.33 है. 71.43 प्रतिशत अंकों के साथ साउथ अफ्रीका दूसरे नंबर पर है. पहले नंबर पर ऑस्ट्रेलिया ने कब्जा जमा रखा है. वहीं इंग्लैंड की टीम 7वें नंबर पर है टीम की जीत का प्रतिशत 28.89 है.  हालांकि विराट कोहली की फॉर्म टीम की लिए चिंता का विषय है. हाल ही में रोहित शर्मा भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं.

Tags: IND vs ENG, Joe Root Virat Kohli, Virat Kohli

Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.