नई दिल्ली. भारत और ऑस्ट्रेलिया की क्रिकेट टीमें 20 सितंबर को खेली जाने वाली टी20 सीरीज की शुरुआती मुकाबले के लिए मोहाली पहुंच चुकी हैं. तीन मैचों की टी20 सीरीज का पहला मुकाबला मोहाली में खेला जाएगा. इस मुकाबले से पहले चंडीगढ़ पुलिस ने कथित तौर पर पंजाब क्रिकेट एसोसिएशन (PCA) को बकाया राशि का भुगतान करने के लिए कहा है. पीसीए पर कथित तौर पर पिछले 8 सालों से 5 करोड़ रुपये का बकाया है.

इंडियन एक्सप्रेस की एक रिपोर्ट के अनुसार, एसएसपी (यातायात/ सुरक्षा) ने शनिवार को पीसीए अधिकारियों के साथ इस मुद्दे को उठाया था. यातायात SSP मनीषा चौधरी ने कहा, “हमने चंडीगढ़ में भारतीय और ऑस्ट्रेलियाई दोनों टीमों के ठहरने के लिए सुरक्षा और कानून व्यवस्था की व्यवस्था की है. साथ ही, पंजाब क्रिकेट एसोसिएशन को मोहाली में हुए पिछले मैचों के बकाया का भुगतान करने के लिए कहा गया है, जिसके लिए चंडीगढ़ पुलिस द्वारा सुरक्षा व्यवस्था की गई थी.”

पीसीए सचिव दिलशेर खन्ना ने मामले के विचाराधीन होने का हवाला देते हुए इस मुद्दे पर कोई टिप्पणी नहीं की. उन्होंने कहा, “चंडीगढ़ पुलिस क्रिकेट टीमों को पूरा सहयोग और सुरक्षा प्रदान कर रही है. लंबित सुरक्षा बिलों से संबंधित मामला विचाराधीन है. क्रिकेट टीमों के शहर में प्रवेश करते ही चंडीगढ़ पुलिस ने एस्कॉर्ट और सुरक्षा मुहैया कराना शुरू कर दिया.” रिपोर्ट में आगे दावा किया गया है कि शुक्रवार दोपहर शहर में उतरी ऑस्ट्रेलियाई टीम को चंडीगढ़ पुलिस द्वारा उपलब्ध कराए गए कुछ कर्मियों के साथ उनके होटल में ले जाया गया.

यह भी पढे़ं:

Ind vs Aus 1st T20I: मोहाली पहुंची टीम इंडिया, विराट कोहली का वीडियो हुआ वायरल

वर्ल्ड कप से पहले लिया ड्रग्स, 3 साल तक टीम से रहा बाहर, 33 साल की उम्र में दोबारा वापसी

इस बीच, ऑस्ट्रेलिया ने टी20 सीरीज की तैयारी के लिए शनिवार को आईएस बिंद्रा पीसीए इंटरनेशनल स्टेडियम में अपना पहला अभ्यास सत्र आयोजित किया. भारतीय टीम रविवार से अपना प्रैक्टिस सेशन शुरू करेगी.

मोहाली की पिच भारत में तेज गेंदबाजों के लिए सबसे अच्छी मानी जाती है. भारत के पास जसप्रीत बुमराह, भुवनेश्वर कुमार और हर्षल पटेल जैसे तेज गेंदबाज हैं. वहीं, ऑस्ट्रेलिया की ओर से पैट कमिंस और जोश हेजलवुड कहर बरपा सकते हैं.

Tags: Chandigarh, Chandigarh Police, India vs Australia, Mohali

Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.