हाइलाइट्स

भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच दूसरा टी20 नागपुर में खेला जाएगा
टीम इंडिया मोहाली में हुआ पहला टी20 हार गई थी
रोहित शर्मा के पास कमबैक के लिए है एक ट्रंप कार्ड

नई दिल्ली. रोहित शर्मा की टीम इंडिया के लिए ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टी20 सीरीज (India vs Australia T20 Series) में शुक्रवार को नागपुर में होने वाला दूसरा मुकाबला करो या मरो का है. अगर भारत यह मैच हार जाता है, तो सीरीज भी गंवा देगा. मोहाली में हुआ पहला टी20 ऑस्ट्रेलिया ने जीता था. ऐसे में भारत के पास सीरीज में कमबैक का यह आखिरी मौका है. इसलिए भारतीय टीम हर हाल में इसे जीतना चाहेगी. कप्तान रोहित शर्मा भी एशिया कप की नाकामी के बाद एक और सीरीज नहीं गंवाना चाहेंगे. उनके पास नागपुर में जीत का मौका है. बस, उन्हें एक काम करना होगा और वो है प्लेइंग-XI में दीपक चाहर को शामिल करना.

अब आप सोच रहे होंगे कि दीपक के टीम में शामिल होने से ऐसा क्या हो जाएगा कि भारत नागपुर में साख की लड़ाई जीत जाएगा, तो इसके पीछे की वजह है नागपुर में इस गेंदबाज का रिकॉर्ड तोड़ प्रदर्शन.

दीपक ने नागपुर में बनाया था वर्ल्ड रिकॉर्ड
नागपुर के विदर्भ क्रिकेट एसोसिएशन मैदान पर पिछला टी20 2019 में खेला गया था. इस मैच में भारत और बांग्लादेश की टीमें आमने-सामने थीं. भारत ने यह मैच जीतने के साथ सीरीज भी 2-1 से अपने नाम की थी. इस मैच में दीपक ने अकेले दम पर ही भारत को जीत दिला दी थी. उन्होंने वर्ल्ड रिकॉर्ड तोड़ा था. दीपक ने इस मैच में हैट्रिक लेने के साथ 6 विकेट हासिल किए थे. यह तब टी20 इंटरनेशनल में किसी भी गेंदबाज का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन था. उन्होंने श्रीलंका के अजंता मेंडिस (8/6) का 2012 में बनाया गया रिकॉर्ड तोड़ा था. हालांकि, 2021 में दीपक का यह रिकॉर्ड नाईजीरिया के गेंदबाज पीटर अहो ने तोड़ दिया था. पीटर ने सियारा लियोन के खिलाफ 3.4 ओवर में 5 रन देकर 6 विकेट लेने का कारनामा किया था.

दीपक ने हैट्रिक के साथ 6 विकेट लिए थे
बांग्लादेश के खिलाफ 3 साल पहले नागपुर में हुए मुकाबले की अगर बात करें तो भारत ने केएल राहुल और श्रेयस अय्यर की अर्धशतकीय पारी की बदौलत बांग्लादेश को 175 रन का लक्ष्य दिया था. लेकिन, दीपक की स्विंग गेंदबाजी के आगे बांग्लादेशी बल्लेबाजी ताश के पत्तों की तरह ढह गई थी. उन्होंने पहले बांग्लादेश के टॉप ऑर्डर को पवेलियन की राह दिखाई और फिर आखिरी के ओवर में निचले क्रम के बल्लेबाजों का शिकार कर टीम इंडिया की जीत तय की. इस मैच में दीपक ने हैट्रिक भी ली थी. उन्होंने 18वें ओवर की आखिरी गेंद पर विकेट लिया था और फिर 20वें ओवर की पहली 2 गेंद पर दो विकेट लेकर अपनी हैट्रिक पूरी की थी.

संजू सैमसन के कमान संभालते ही भारत जीता, 109 गेंद रहते ही हासिल कर ली जीत

IND vs AUS 2nd T20: टीम इंडिया के कमबैक की राह में आया बड़ा रोड़ा, प्रैक्टिस भी रद्द करनी पड़ी

उमेश को दीपक पर तरजीह दी गई
मोहाली टी20 में भारतीय टीम मैनेजमेंट ने उमेश यादव को मौका दिया था. वो पहले टीम में भी नहीं थे. उन्हें मोहम्मद शमी के सीरीज से बाहर होने के बाद टीम से जोड़ा गया था और 3 साल बाद सीधे प्लेइंग-XI में शामिल कर लिया गया जबकि दीपक भी स्क्वॉड में थे. लेकिन, उन्हें मौका नहीं मिला. खेल के जानकारों ने इस फैसले पर ताज्जुब भी जताया था. ऐसे में भारतीय कप्तान रोहित के पास अपनी इस गलती को सुधारने के साथ ही दीपक के रूप में ऐसा ट्रंप कार्ड है, जो टीम इंडिया की कमबैक की राह आसान कर सकता है. अब देखना होगा कि उन्हें दूसरे टी20 में मौका मिलता है या नहीं.

Tags: Deepak chahar, India vs Australia, Nagpur, Rohit sharma, Team india, Umesh yadav

Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.