विशाखापत्तनम. ऋषभ पंत (Rishabh Pant) की कप्तानी वाली भारतीय क्रिकेट टीम के लिए दक्षिण अफ्रीका (IND vs SA 3rd T20) के खिलाफ 5 मैचों की सीरीज के बाकी बचे तीन मुकाबले अब नॉकआउट की तरह हैं. सीरीज में 0-2 से पिछड़ रही मेजबान टीम इंडिया मंगलवार को तीसरे टी20 में प्रोटियाज टीम से भिड़ेगी. इस मैच में फॉर्म में चल रहे स्पिनर गेंदबाजों, सलामी बल्लेबाज ऋतुराज गायकवाड़ (Ruturaj Gaikwad) और खुद रन बनाने के लिए जूझ रहे कप्तान ऋषभ पंत पर काफी दबाव होगा. भारत लगातार 12 मैच जीतकर इस सीरीज में उतरा था लेकिन दक्षिण अफ्रीका की मजबूत टीम के सामने पहले दो मैचों में उसकी एक नहीं चली.

पंत की अगुआई वाली टीम कई विभागों में संघर्ष कर रही है और उसे एक दिन के अंदर इन कमजोरियों को दूर करना होगा. यदि पहले मैच में भारत खराब गेंदबाजी के कारण हारा तो दूसरे मैच में बल्लेबाजों ने निराश किया. भारतीय सलामी बल्लेबाज अभी तक पावरप्ले में अच्छी शुरुआत देने में नाकाम रहे हैं. ईशान किशन ने अब तक अच्छा प्रदर्शन किया है लेकिन ऋतुराज केवल 23 और एक रन बना पाए हैं. तेज गेंदबाजों के सामने उनकी तकनीक पर सवाल भी उठने लगे हैं.

यह भी पढ़ें:विराट कोहली समंदर किनारे हुए ‘शर्टलेस’… पत्नी अनुष्का शर्मा ने बिकिनी में कराया फोटो शूट, देखें तस्वीरें

IND vs SA: IPL 2022 के हीरो, दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ साबित हो रहे जीरो; कहीं हाथ से फिसल न जाए सीरीज

श्रेयस उम्मीद के मुताबिक तेजी से नहीं बना पा रहे रन 

श्रेयस अय्यर ने अच्छी शुरुआत की है लेकिन वह अपेक्षित तेजी से रन नहीं बना पाए हैं जिससे आगे के बल्लेबाजों पर दबाव बन रहा है. हार्दिक पंड्या ने पहले मैच में कुछ दर्शनीय शॉट लगाए थे लेकिन कटक के विकेट पर वह भी नहीं चल पाए थे. वह गेंदबाजी में भी नाकाम रहे हैं. केएल राहुल के चोटिल होने के कारण कप्तानी का जिम्मा संभालने वाले पंत अब तक 29 और पांच रन बना पाए हैं. उन्होंने 45 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में 23.9 के औसत और 126.6 के स्ट्राइक रेट से केवल तीन अर्धशतक बनाए हैं जो उनकी प्रतिभा के अनुरूप नहीं है.

कप्तान पंत के फैसलों पर उठ रहे सवाल 

कप्तान के रूप में पंत के फैसलों पर भी सवाल उठ रहे हैं. दूसरे मैच में अक्षर पटेल को दिनेश कार्तिक से पहले भेजने का निर्णय गलत साबित हुआ था. उनसे एक कप्तान और एक खिलाड़ी के रूप में अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद की जा रही है. गेंदबाजी में युजवेंद्र चहल और अक्षर की स्पिन जोड़ी ने अब तक निराश किया है. डेविड मिलर, रासी वान डेर डुसेन और हेनरिक क्लासेन जैसे बल्लेबाजों ने उनके खिलाफ आसानी से रन बनाए हैं.

रवि बिश्नोई या वेंकटेश अय्यर को मिल सकता है मौका 

तीसरे मैच में इनमें से किसी एक को बाहर किया जा सकता है। टीम प्रबंधन युवा लेग स्पिनर रवि बिश्नोई या ऑलराउंडर वेंकटेश अय्यर को ले सकता है. वेंकटेश आईपीएल में पारी का आगाज भी करते रहे हैं. भुवनेश्वर कुमार को छोड़कर भारतीय गेंदबाज विकेट लेने में असफल रहे हैं. भारतीय गेंदबाज एक या दो ओवरों में रन लुटाकर पहले की गई मेहनत पर पानी फेर दे रहे हैं. अब जबकि श्रृंखला दांव पर लगी है तब उन्हें हर हाल में अच्छा प्रदर्शन करना होगा.

उमरान मलिक  या अर्शदीप को डेब्यू का मिलेगा मौका? 

भारतीय टीम प्रबंधन ऐसे में अब तक एक भी विकेट नहीं लेने वाले आवेश खान की जगह तेज गेंदबाज उमरान मलिक या अर्शदीप सिंह को पदार्पण का मौका दे सकता है. दूसरी तरफ दक्षिण अफ्रीका हर विभाग में अच्छा प्रदर्शन कर रहा है. उसके गेंदबाज विकेट निकाल रहे हैं और बल्लेबाज साझेदारियां निभा रहे हैं. पहले मैच में मिलर और वान डेर डुसेन ने कमाल दिखाया तो दूसरे मैच में क्लासेन ने 81 रन की प्रवाहमय पारी खेली। गेंदबाजी में कगिसो रबाडा, एनरिक नोर्खिया और वायने पर्नेल अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं.

Tags: Arshdeep Singh, Bhuvneshwar kumar, Ind vs sa, India vs South Africa, Rishabh Pant, Ruturaj gaikwad, Umran Malik

Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.