Heatwave likely to prevail in Northwest India for few more days- India TV Hindi
Image Source : PTI
Heatwaves likely to prevail in Northwest India for a few more days

Highlights

  • देश कई राज्यों में जारी रहेगा गर्मी का प्रकोप
  • 2 जून से लू की चपेट में पश्चिमोत्तर और मध्य भारत
  • 15 जून तक कोई राहत मिलने की संभावना नहीं

Heatwave: इन दिनों देश के कई सारे राज्य भयंकर गर्मी की मार झेल रहे हैं। पश्चिमोत्तर और मध्य भारत के कई हिस्सों में शनिवार को भी लू चली, हालांकि इससे प्रभावित क्षेत्रों की संख्या में मामूली कमी आई है। भारत मौसम विज्ञान (आईएमडी) ने बताया कि पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, बिहार और झारखंड के इलाकों में लू का प्रकोप दो दिन तक जारी रहेगा। 

बांदा रहा देश का सबसे गर्म शहर

राजस्थान, मध्य प्रदेश, हरियाणा, दिल्ली, झारखंड और उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में शनिवार को लू की स्थिति बनी रही और बांदा (उत्तर प्रदेश) 46.2 डिग्री सेल्सियस तापमान के साथ देश का सबसे गर्म स्थान रहा। इन राज्यों के कम से कम 22 कस्बों और शहरों में अधिकतम तापमान 44 डिग्री सेल्सियस से ऊपर दर्ज किया गया। गर्म और शुष्क पश्चिमी हवाओं के कारण पश्चिमोत्तर और मध्य भारत दो जून से ही लू की चपेट में है। 

जून की इस तारीख से मिलेगी राहत

विभाग के वरिष्ठ वैज्ञानिक आर के जेनामणि ने बताया कि दिल्ली-एनसीआर और पश्चिमोत्तर भारत के अन्य हिस्सों में अधिकतम तापमान में सप्ताहांत में कुछ डिग्री की कमी आएगी, लेकिन 15 जून तक कोई बड़ी राहत मिलने की संभावना नहीं है। आईएमडी ने बताया कि नमी युक्त पुरवाई चलने से 16 जून से भीषण गर्मी से काफी राहत मिलेगी। आईएमडी के अधिकारी ने बताया कि पूर्वी मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और ओडिशा में 12 जून से मानसून पूर्व गतिविधियां शुरू होने का पूर्वानुमान है, लेकिन उत्तरी राजस्थान, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तर प्रदेश और उत्तरी मध्य प्रदेश में 15 जून तक तापमान सामान्य से अधिक बना रहेगा। 

अगले चार दिन तक कोई राहत नहीं

मौसम विभाग ने बताया कि अगले चार दिन में पश्चिमोत्तर भारत में अधिकतम तापमान में किसी खास बदलाव की संभावना नहीं है। आईएमडी ने बताया कि 16 जून से 22 जून के बीच अधिकतम तापमान सामान्य से कम या सामान्य के निकट रहने की संभावना है। उसने कहा, ‘‘सप्ताह (16 जून-22 जून) के दौरान देश के किसी भी हिस्से में लू चलने का अनुमान नहीं है।’’

Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.