Dharmendra Meena Kumari: बॉलीवुड एक्टर धर्मेंद्र (Dharmendra) को फिल्मों में लाने का क्रेडिट अगर मीना कुमारी (Meena Kumari) को दिया जाए तो ये गलत नहीं होगा. मीना धर्मेंद्र को इस कदर पसंद करने लगीं थीं कि एक समय में वो अपनी फिल्मों में धर्मेंद्र को ही लेने की जिद पर अड़ जाया करती थीं. फिल्ममेकर्स को मीना की जिद माननी पड़ती थी क्योंकि वो सुपरस्टार थीं. 

1964-64 के बीच मीना और धर्मेंद्र ने मैं भी लड़की हूं, पूर्णिमा, काजल, फूल और पत्थर, मंझली दीदी, बहारों की मंजिल जैसी कई फिल्में की थीं. फिल्मों की शूटिंग करते हुए दोनों की बढ़ती नजदीकियां कोई नजरअंदाज नहीं कर पाया. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, दोनों के रोमांस के किस्से इस कदर देश में फैली कि दिल्ली के एक फंक्शन में उस समय के तत्कालीन राष्ट्रपति डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन ने खुद मीना से इस अफेयर के बारे में पूछ लिया. 


मीना, धर्मेंद्र की दीवानी थीं, लेकिन जैसे ही फूल और पत्थर से धर्मेंद्र को कामयाबी मिली तो वो स्टार फिल्मी दुनिया में व्यस्त हो गए. इसका असर उनके रिश्ते पर ऐसा पड़ा कि दोनों अलग हो गए. मीना बीमार पड़ी तब भी धर्मेंद्र ने उनकी खबर नहीं ली. धीरे-धीरे बढ़ती दूरियों से रिश्ता टूट गया और मीना बुरी तरह टूट गईं.


अलग होने के बाद दोनों का आमना-सामना के. आसिफ (K.Asif) की फिल्म लव एंड गॉड की पार्टी में हुआ. धर्मेंद्र और मीना की आंखे मिली जरूर लेकिन दोनों ने बात नहीं की. धर्मेंद्र, मीना को नजरअंदाज करते हुए पार्टी में व्यस्त हो गए. लेकिन मीना को धर्मेंद्र का नजरअंदाज करना इतना बुरा लगा कि वो पार्टी छोड़कर निकल गईं. 

Dharmendra: जब स्ट्रगल के दौरान भूख से बेहाल धर्मेंद्र ने उठा लिया था ऐसा कदम, डॉक्टर ने कह दी थी चौंकाने वाली बात!

Sunil Dutt: 25 रुपये की सैलरी पर काम करते थे सुनील दत्त, दिलीप कुमार की फिल्म के सेट पर बदली किस्मत और बन गए हीरो

Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.