Video gets viral of Bihar Police of rifles malfunctioning while guard of honour- India TV Hindi
Image Source : INDIA TV
Video gets viral of Bihar Police of rifles malfunctioning while guard of honour

Highlights

  • पूर्व मंत्री योगेंद्र पांडे का हो रहा था अंतिम संस्कार
  • योगेंद्र पांडे को दिया जाना था “गार्ड ऑफ ऑनर”
  • ऐन मौके पर बिहार पुलिस की राइफलें दे गईं धोखा

Bihar Police Video: बिहार के मोतिहारी में गोबिंदगंज विधानसभा के पूर्व विधायक और पूर्व मंत्री योगेंद्र पांडे का अंतिम संस्कार हो रहा था। इस दौरान योगेंद्र पांडे को “गार्ड ऑफ ऑनर” दिया जाना था, लेकिन ऐन मौके पर बिहार पुलिस की अंग्रेजों के जमाने की थ्री नॉट थ्री रायफल जवाब दे गयी। हालांकि कुछ फायर हुए लेकिन कई पुलिसकर्मियों के कंधे पर टंगी बन्दूके लाख कोशिश के बाद भी शांत ही रहीं। मौके पर मौजूद लोगों ने वीडियो बनाना शुरू कर दिया और कुछ ही देर में वीडियो वायरल भी हो गया।

किसी राइफल का बोल्ट फंसा, किसी की गोली फुस्स

बिहार सरकार के पूर्व लघु सिंचाई मंत्री योगेन्द्र पांडे का पार्थिव शरीर गंडक नदी के गोबिंदगंज घाट पर अंतिम संस्कार के लिए चिता पर रखा हुआ था। गार्ड ऑफ ऑनर के लिए जिला पुलिस से पहुंचे पुलिसकर्मी अंतिम संस्कार वाले स्थान पर पहुंचे हुए थे। लाईन में सभी जवान थ्री नॉट थ्री की राइफल लिए खड़े थे। उनकी अगुवाई कर रहे जवान ने सभी से सावधान-विश्राम कराने के बाद जवानों को कंधे पर शस्त्र रखने का आदेश दिया। फिर अंतिम सलामी का आदेश देते हीं जवानों ने कंधे पर रखे रायफल का ट्रिगर दबाना शुरू किया।

कुछ बन्दूकों से ठांय-ठांय की आवाज आयी भी लेकिन इसी दौरान कुछ जवान अपनी बन्दूक से जूझते नजर आये। ये जवान बार-बार राइफल का बोल्ट चढ़ाने की कोशिश कर रहे थे लेकिन बोल्ट फंस जा रहा था। इस दौरान कुछ सीनियर अधिकारियों ने गाइड करने की कोशिश भी की लेकिन बात नहीं बनी। एक जवान काफी प्रयास के बाद बोल्ट चढ़ाने में कामयाब हो भी गया लेकिन ट्रिगर दबाते ही गोली फुस्स हो गयी। 

पहले भी धोखा दे चुकी हैं बंदूकें

इसी लाइन में तीसरे नंबर पर खड़े जवान ने भी रायफल की स्थिति को भांप कर उसे कंधे पर उसी पोजिशन में छोड़ दिया। ऐसा पहली बार नहीं है कि बिहार के किसी मंत्री के निधन पर दिए जानेवाले गार्ड ऑफ ऑनर के दौरान बंदूक ने धोखा दिया हो। इससे पहले 2019 में पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्रा के अंतिम संस्कार के दौरान भी गार्ड ऑफ ऑनर के दौरान किसी बंदूक से फायरिंग नहीं हो सकी थी।

 

Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.