हाइलाइट्स

भारत और हॉन्गकॉन्ग के बीच एशिया कप में मैच खेला जा रहा
हार्दिक पंड्या के स्थान पर इस मैच में ऋषभ पंत खेल रहे
भारतीय टीम 4 तेज गेंदबाज और एक ऑलराउंडर के साथ उतरी

नई दिल्ली. एशिया कप में भारत अपना दूसरा मुकाबला हॉन्गकॉन्ग से खेल रहा है. यह मैच भी दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम में खेला जा रहा है. इसी मैदान पर हुए अपने पहले मैच में भारत ने पाकिस्तान को 5 विकेट से शिकस्त दी थी. लेकिन, उस मैच में भारत ने जो काम नहीं किया था, वो हॉन्गकॉन्ग के खिलाफ किया. इस मैच में टीम इंडिया 6 बल्लेबाजों के साथ उतरी है और अगर रवींद्र जडेजा को भी जोड़ दें तो हॉन्गकॉन्ग के खिलाफ 7 बल्लेबाज खेल रहे हैं और सिर्फ 4 गेंदबाज उतरे हैं. इसमें भुवनेश्वर कुमार, युजवेंद्र चहल, अर्शदीप सिंह और आवेश खान शामिल हैं.

भारत ने हॉन्गकॉन्ग के खिलाफ हार्दिक पंड्या को आराम दिया है. उनके स्थान पर विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत को शामिल किया है. वो, मैच में विकेटकीपिंग करेंगे जबकि दिनेश कार्तिक भी खेल रहे हैं, जिन्होंने पाकिस्तान के खिलाफ बल्लेबाजी के साथ-साथ विकेटकीपिंग की जिम्मेदारी निभाई थी. यानी हॉन्गकॉन्ग के खिलाफ भारतीय टीम 2 विकेटकीपर के साथ उतरी और 7 नंबर तक बल्लेबाजी करने वाले खिलाड़ी हैं. कार्तिक बल्लेबाज के तौर पर खेल रहे हैं और 7 नंबर पर उतरेंगे.

हॉन्गकॉन्ग जैसे देश के खिलाफ, जिसकी गेंदबाजी पाकिस्तान जैसी तो कम से कम नहीं है, उसके खिलाफ 7 बल्लेबाज के साथ उतरने का कदम चौंकाने वाला है.

पंत को टीम में शामिल करने का फैसला समझ से परे
भारतीय टीम मैनेजमेंट ने हार्दिक पंड्या की अहमियत को जानते हुए उन्हें हॉन्गकॉन्ग के खिलाफ आराम दिया, यह फैसला सही है. क्योंकि टी20 विश्व कप करीब है. ऐसे में पंड्या का वर्कलोड मैनेज करना जरूरी है. खुद कप्तान रोहित ने भी टॉस के बाद यही कहा था कि हमारे लिए पंड्या बेहद अहम खिलाड़ी हैं. इसलिए उन्हें आराम दिया गया है. लेकिन, सवाल यह उठता है कि भारतीय टीम यह मुकाबला 5 गेंदबाजों के साथ खेल रही है. इसका मतलब सबको 4-4 ओवर फेंकने होंगे. ऐसे में अगर किसी एक गेंदबाज का भी दिन खराब हुआ, तो भारत के लिए परेशानी खड़ी हो सकती है.

वैसे भी, हॉन्गकॉन्ग की टीम जब 2018 के एशिया कप में भारत से भिड़ी थी तो 286 रन का पीछा करते हुए 50 ओवर में 259 रन बना दिए थे. भारत सिर्फ 20 रन से जीता था और इस बार टक्कर टी20 फॉर्मेट में है, जहां कुछ गेंद में ही खेल का पासा पलट जाता है.

हुडा को मौका दिया जा सकता था
पंड्या को अगर आराम दिया गया था, तो उनके स्थान पर एक और बल्लेबाज को खिलाना, वो भी हॉन्गकॉन्ग जैसी कमजोर टीम के खिलाफ, समझ से परे है. भारतीय टीम मैनेजमेंट पंड्या के स्थान पर ऐसे खिलाड़ी को मौका दे सकता था, जो जरूरत पड़ने पर छठे गेंदबाज की भी भूमिका निभा पाता है और ऐसे में दीपक हुडा सही पसंद हो सकते थे. वो पारी की शुरुआत करने के साथ, किसी भी नंबर पर बल्लेबाजी कर सकते हैं और 2-3 ओवर भी फेंक सकते हैं.

T20 क्रिकेट के 10 रिकॉर्ड जिनका टूटना… मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है, एक गेंदबाज चारों ओवर मेडन फेंक चुका है

IND vs HKG: भारतीय टीम में एक बदलाव, जानिए किस प्लेइंग-XI के साथ उतरी टीम इंडिया

रोहित ने कहा था- हम लगातार प्रयोग करते रहेंगे
भारतीय कप्तान रोहित शर्मा ने भी पाकिस्तान के खिलाफ मैच से पहले कहा था कि हम प्रयोग करते रहेंगे. चीजों को आजमाएंगे. ताकि नए जवाब मिल सके. अगर इसमें हमें मुश्किलों का भी सामना करना पड़ा तो कोई समस्या नहीं. हम प्रयोग करना जारी रखेंगे. फिर चाहें बैटिंग या बॉलिंग कॉम्बिनेशन की बात हो. हालांकि, हॉन्गकॉन्ग के खिलाफ जो प्रयोग टीम इंडिया ने किया, वो खेल के दिग्गजों को भी नहीं पचा और इसे लेकर टीम की काफी आलोचना हो रही.

Tags: Asia cup, Dinesh karthik, Hardik Pandya, Hong kong, Rishabh Pant, Team india

Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.