लखनऊ. संजू सैमसन (नाबाद 86 रन) और श्रेयस अय्यर (50 रन) के अर्धशतकों से जीत के करीब पहुंचने के बावजूद भारतीय टीम गुरुवार को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वनडे मुकाबले में नौ रन से शिकस्त झेलनी पड़ी. दक्षिण अफ्रीका ने डेविड मिलर (नाबाद 75) और हेनरिच क्लासेन (नाबाद 74) की शानदार अर्धशतकीय पारियों से 40 ओवर में चार विकेट पर 249 रन बनाए. जवाब में लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारत की शुरुआत बेहद खराब रही और आठ रन के स्कोर पर दोनों सलामी बल्लेबाजों (शिखर धवन और शुभमन गिल) के विकेट गंवा दिए. फिर बल्लेबाजी के लिए मैदान पर आए संजू सैमसन (63 गेंद, नौ चौके, तीन छक्के) और अय्यर (37 गेंद, आठ चौके) के अर्धशतक ने टीम को संभालने की कोशिश की. सैमसन ने अय्यर के साथ पांचवें विकेट के लिये 67 रन और शार्दुल ठाकुर (33 रन) के साथ छठे विकेट के लिये 93 रन की साझेदारी कर टीम को लक्ष्य के करीब पहुंचा भी दिया था लेकिन टीम 40 ओवर में आठ विकेट पर 240 रन ही बना सकी.

मैच के बाद कप्तान शिखर धवन ने श्रेयस अय्यर, संजू सैमसन और शार्दुल ठाकुर की तारीफ की. उन्होंने कहा, ‘जिस तरह से इन तीनों ने खेल दिखाया है, उस पर मुझे गर्व है. हमारी शुरुआत अच्छी नहीं रहीं. हालांकि श्रेयस, सैमसन और शार्दुल ने जिस शानदार अंदाज में बल्लेबाजी की, वह काबिले तारीफ है. हमारी फील्डिंग बहुत ही खराब रही और हमने कई रन लुटाए लेकिन हम सबके लिए यह एक अच्छा सबक है.’ धवन ने कहा, ‘जिस तरह का यह विकेट है, मुझे लगता है कि यहां 250 रन बहुत ज्यादा थे.’

क्या संजू सैमसन की शानदार पारी पर भारी पड़ गई एक गलती? आखिर क्यों नहीं ली 39वें ओवर में स्ट्राइक

वहीं, दक्षिण अफ्रीकी कप्तान तेम्बा बावुमा ने जीत के बाद कहा, ‘अंत में अच्छा गेम देखने को मिला. निश्चित रूप से संजू ने हमारी टीम में खलबली पैदा की लेकिन हमारे साथी खिलाड़ी भी डटे रहे और अंतत: जीत हासिल की. पिच की सतह पर ज्यादा घास नहीं थी. हमने बीच में विकेट खोए. डेविड मिलर और हेनरिच क्लासेन ने शानदार प्रदर्शन किया. गेंदबाजी भी हमारी ठीक ही रही. हालांकि मुझे लगता है कि हमारी पकड़ मिडिल ओवर में कमजोर पड़ी और रन लुटाए. अंत में जीत हमारे पक्ष में आई और मैं खुश हूं.’

Tags: India vs South Africa, Shikhar dhawan, Team india

Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.