नई दिल्ली. मध्य प्रदेश ने रणजी ट्रॉफी जीतकर इतिहास रच दिया. टीम के कोच चंद्रकांत पंडित ने बताया कि मध्य प्रदेश टीम के कप्तान आदित्य श्रीवास्तव को उनकी शादी के लिए सिर्फ 2 दिन की छुट्टी दी गई थी. आदित्य ने बताया कि पिछले साल हुई शादी के बाद से उन्होंने 10 दिन की भी छुट्टी नहीं ली है.

मध्य प्रदेश के मुख्य कोच ने कहा कि उन्होंने अपने खिलाड़ियों से कहा कि सफल होने के लिए लंबे वक्त तक मेहनत करनी पड़ती है. टीम की जीत पर बात करते हुए कोच ने कहा बाकी टीमों को पीछे छोड़ कर इस ट्रॉफी को उठाना बेहद खास था. पिछली बार मध्य प्रदेश ने रणजी के फाइनल में 1999 में जगह बनाई थी उस वक्त पंडित टीम के कप्तान थे और फाइनल में कर्नाटक से हार गए थे.

यह भी पढ़ें : Ranji Trophy 2022: मध्य प्रदेश को रणजी जिताने वाला अनोखा कोच, मुबई-सौराष्ट्र को भी बना चुका है चैंपियन

यह भी पढ़ें : Ranji Trophy Final: रजत पाटीदार सहित मप्र की पूरी टीम ने जमकर किया डांस, चंद्रकांत पंडित भी झूमे, VIDEO

‘हर ट्रॉफी संतुष्टि देती है लेकिन यह बहुत खास है. मैं सालों पहले (1999) एमपी के कप्तान के रूप में ऐसा नहीं कर पाया था. इतने सालों में मैंने हमेशा ऐसा महसूस किया है कि जैसे मैंने यहां कुछ छोड़ दिया हो. यही कारण है कि मैं इसे लेकर थोड़ा अधिक उत्साहित और भावुक हूं. पंडित ने कहा कि पिछले साल आदित्य शादी से पहले मेरे पास आया तब मैंने उसे सिर्फ 2 दिन की छुट्टी उसकी शादी के लिए दी.

आपको बता दें कि मध्य प्रदेश ने मुंबई की मजबूत टीम को हराकर रणजी ट्रॉफी पर कब्जा करके इतिहास रच दिया. मुंबई ने पहली पारी में 374 रन बनाए जिसके जवाब में मध्य प्रदेश ने 536 रनों का बड़ा लक्ष्य खड़ा किया और पहली पारी में 162 रनों की बड़ी लीड ले ली. इसके बाद मुंबई ने दूसरी पारी में 269 रन बनाए, फिर मध्य प्रदेश ने चौथी पारी में 4 विकेट पर 108 रन बनाकर यह मैच जीता और ट्रॉफी अपने नाम की.

Tags: Cricket news, Madhya pradesh news, Prithvi Shaw, Ranji Trophy



Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.