नई दिल्ली. घर में दक्षिण अफ्रीका पर इंग्लैंड की 2-1 की जीत ने चल रहे 2021-23 आईसीसी विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप (WTC) को और भी मजेदार बना दिया है. हालांकि, इस जीत का चैंपियनशिप में इंग्लैंड के भाग्य पर कोई असर नहीं पड़ने वाला है. बांग्लादेश और मौजूदा चैंपियन न्यूजीलैंड के साथ इंग्लैंड की टीम पहले ही फाइनल की दौड़ से बाहर हो चुकी है. सीरीज की हार ने दक्षिण अफ्रीका को 60 के प्रतिशत (PCT) के साथ दूसरे स्थान पर धकेल दिया है, जबकि ऑस्ट्रेलिया ने 82 अंकों के साथ शीर्ष स्थान और 70 पर्संटेज प्वॉइंट के साथ पहले स्ठान पर कब्जा कर लिया है.

भारत के पास दक्षिण अफ्रीका से अधिक अंक हैं. वह 52.08 पर्संटेज प्वॉइंट के कारण तालिका में चौथे नंबर पर है. 53.33 पर्संटेज प्वॉइंट के मामूली अंतर के साथ साथ श्रीलंका तीसरे नंबर पर है. भारत की शीर्ष दो टीमों में जगह बनाने की राह मुश्किल है, क्योंकि उसके पास अगले साल लॉर्ड्स में डब्ल्यूटीसी के फाइनल से पहले खेलने के लिए केवल छह टेस्ट मैच हैं.

क्रिकेटर से कैसे बन गया ‘बाहुबली’… सचिन तेंदुलकर भी हैं उसकी बॉडी पर फिदा, इरफान पठान तो बाइसेप्स की करने लगे तुलना

पिछले साफ फाइनल में न्यूजीलैंड से मिली थी भारत को हार
भारत को पिछले साल साउथेम्प्टन में केन विलियमसन की अगुवाई वाली न्यूजीलैंड के हाथों हार का सामना करना पड़ा था, जिस वजह से वह उद्घाटन डब्ल्यूटीसी खिताब से चूक गया था. भारत खिताब का दावा करने का एक और मौका पाने के लिए उत्सुक होगा, लेकिन इसके लिए उन्हें अपने आगामी मैचों में अपराजेय रहना होगा.

फाइनल में पहुंचने के लिए भारत को जीतने होंगे सारे मैच
भारत वर्तमान डब्ल्यूटीसी चक्र के अंत से पहले ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चार टेस्ट मैचों की सीरीज और बांग्लादेश के साथ दो मैचों की टेस्ट सीरीज खेलेगा. टीम को अपने पर्संटेज प्वॉइंट को बढ़ाने और इसे 68.06 तक ले जाने के लिए सभी मैच जीतने होंगे. भारत के सारे मैच जीतना, ऑस्ट्रेलिया के लिए एक झटका भी है. इसी परिस्थिति में रोहित शर्मा की कप्तानी वाली टीम इंडिया फाइनल में पहुंच पाएगी.

VIDEO: विराट कोहली से मिली अनुष्का शर्मा की को-स्टार, नहीं रोक पाईं अपनी हंसी

ऑस्ट्रेलिया तालिका में 70 पर्संटेज प्वॉइंट के साथ टॉप पर
दूसरी ओर, ऑस्ट्रेलिया फाइनल के लिए क्वॉलिफाई करने की बेहतर स्थिति में दिख रहा है. टीम वर्तमान में 70 पर्संटेज प्वॉइंट के साथ तालिका में शीर्ष पर है और उसके पास नौ गेम हैं. इसमें वेस्टइंडीज के खिलाफ दो मैचों की घरेलू सीरीज और भारत दौरे से पहले दक्षिण के खिलाफ तीन मैचों की घरेलू सीरीज शामिल है.

ऑस्ट्रेलिया का फाइनल में पहुंचना लगभग तय
भले ही ऑस्ट्रेलिया इन नौ में से छह मैच जीतने में सफल रहे, लेकिन उसके 68 से अधिक पर्संटेज प्वॉइंट के साथ अपना चक्र खत्म करने की संभावना है. ऐसे में यह पर्संटेज प्वॉइंट उसे फिनाले में जगह दिलाने के लिए पर्याप्त होंगे. हालांकि, अगर भारत उनके खिलाफ क्लीन स्वीप दर्ज करने में सक्षम होता है तो ऑस्ट्रेलिया 63.19 पर्संटेज प्वॉइंट पर आ जाएगा. वहीं, दक्षिण अफ्रीका को फाइनल में जगह पक्की करने के लिए अपने आगामी पांच टेस्ट मैचों में से चार में जीत हासिल करनी होगी. इससे कम कुछ भी उन्हें खतरे में डाल सकता है.

पाकिस्तान और विंडीज दूसरी टीमों पर हैं निर्भर
श्रीलंका वर्तमान में तालिका में भारत से आगे है, लेकिन उसके पास केवल दो मैच बचे हैं. दोनों प्रतियोगिता जीतने के बाद उसके पर्संटेज प्वॉइंट उन्हें फाइनल में ले जा सकते हैं. वहीं, पाकिस्तान और वेस्टइंडीज के लिए डब्ल्यूटीसी फाइनल क्वॉलिफिकेशन की संभावना अन्य टीमों के परिणाम पर निर्भर करती है. इसके अलावा उन्हें अपने लगभग सभी शेष मैच जीतने होंगे.

Tags: Australia Cricket Team, Team india, World test championship, WTC, WTC Final

Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.