हाइलाइट्स

धोनी को पहली बार कप्तानी 2007 वर्ल्ड कप में मिली
वर्ल्ड कप में भारत ने पाकिस्तान को 2 बार दी थी मात

नई दिल्ली. एमएस धोनी (MS Dhoni) टी20 वर्ल्ड कप जीतने वाले इकलौते भारतीय कप्तान हैं. उनकी अगुवाई में टीम ने 2007 में साउथ अफ्रीका में यह कारनामा किया था. अगले महीने से फिर टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup 2022) होने जा रहा है. इस बार टीम रोहित शर्मा (Rohit Sharma) की अगुआई में ऑस्ट्रेलिया में दमखम दिखाने को तैयार है. लेकिन आज का दिन भारत और धोनी के लिए खास है. धोनी ने बतौर कप्तान टी20 में पहली जीत आज ही के दिन 14 सितंबर 2007 को दर्ज की थी और वो भी चिर-प्रतिद्वंदी पाकिस्तान के खिलाफ. यह मुकाबला टी20 वर्ल्ड कप का ही था. भारत ने यह मुकाबला टाई होने के बाद अनोखे अंदाज में जीता था.

भारत को पहला मैच 13 सितंबर को स्कॉटलैंड से खेलना था. लेकिन यह मैच बारिश के कारण नहीं खेला जा सका. 14 सितंबर को भारत और पाकिस्तान आमने-सामने थे. टी20 वर्ल्ड कप से पहले सचिन तेंदुलकर, राहुल द्रविड़ और सौरभ गांगुली जैसे सीनियर खिलाड़ियों ने नाम वापस ले लिया था. ऐसे में नए कप्तान एमएस धोनी पर पूरा दारोमदार था. मैच में पाकिस्तान के कप्तान शोएब मलिक ने टॉस जीतकर गेंदबाजी करने का फैसला किया.

36 रन पर गिर गए थे 4 विकेट
पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारत की शुरुआत अच्छी नहीं रही थी. उसके 4 विकेट सिर्फ 36 रन पर गिर गए थे. गौतम गंभीर 0, वीरेंद्र सहवाग 5, युवराज सिंह 1 और दिनेश कार्तिक 11 रन बनाकर तेज गेंदबाज मोहम्मद आसिफ का शिकार हुए. आसिफ ने 4 ओवर में सिर्फ 18 रन दिए और 4 विकेट झटके. 4 विकेट गिरने के बाद नंबर-3 पर उतरे रॉबिन उथप्पा और धोनी ने टीम काे संभाला. उथप्पा 39 गेंद पर 50 रन बनाकर आउट हुए. उन्होंने 4 चौका और 2 छक्का जड़ा.

धोनी और इरफान ने खेली अहम पारी
धोनी ने 31 गेंद पर 33 रन बनाए. 3 चौका और एक छक्का लगाया. वहीं इरफान पठान ने 15 गेंद पर 20 रन बनाए. 2 छक्का जड़ा. अजीत आगरकर ने भी 9 गेंद पर 14 रन का योगदान दिया. इस तरह से टीम इंडिया 9 विकेट पर 141 रन का स्कोर बनाने में सफल रही. पाकिस्तान की ओर से आसिफ के अलावा शाहिद अफरीदी ने 37 रन देकर 2 विकेट लिए. यासिर अराफात और सोहेल तनवीर को भी एक-एक विकेट मिला.

47 रन पर झटके 4 विकेट
जवाब में पाकिस्तान की शुरुआत भी अच्छी नहीं रही थी. टीम ने 47 रन पर 4 बड़े विकेट गंवा दिए थे. इसके बाद शोएब मलिक ने 20 रन बनाकर टीम को संभाला. मिस्बाह उल हक एक छोर से डटे रहे. पाकिस्तान को अंतिम ओवर में 12 रन बनाने थे और 4 विकेट हाथ में थे. एस श्रीसंथ यह ओवर डालने आए. पहली गेंद पर अराफात ने एक रन लिया. दूसरी गेंद पर मिस्बाह ने चौका जड़ा और तीसरी गेंद पर 2 रन लिया. चौथी गेंद पर उन्होंने एक बार फिर चौका लगाया. इस तरह से पाकिस्तान को अब जीत के लिए 2 गेंद पर सिर्फ एक रन बनाने थे. 5वीं गेंद पर वे रन नहीं बना सके. अंतिम गेंद पर वे रन आउट हो गए और इस तरह से मैच टाई हो गया. मिस्बाह ने 35 गेंद पर 53 रन बनाए. 7 चौका और एक छक्का जड़ा.

भारतीय दौरे से पहले ऑस्ट्रेलिया को बड़ा झटका, 3 खिलाड़ी बाहर, टी20 वर्ल्ड कप पर भी खतरा!

बॉल आउट में मिली जीत
इसके बाद मैच के रिजल्ट के लिए बॉल आउट का सहारा लिया. हर टीम को गेंद को स्टंप पर मारना था. भारत की ओर से उथप्पा, हरभजन सिंह और वीरेंद्र सहवाग ने गेंद को स्टंप पर हिट किया. वहीं पाकिस्तान की ओर से अफरीदी, उमर गुल और यासिर अराफात तीनों में से कोई हिट नहीं कर सका. इस तरह से भारत को जीत मिली. इसके बाद फाइनल में एक बार फिर भारत और पाकिस्तान आमने-सामने थे. अंतिम ओवर में जोगिंदर शर्मा की गेंद पर मिस्बाह आउट हुए थे और भारत ने टी20 वर्ल्ड कप के पहले सीजन का खिताब अपने नाम किया था.

Tags: India Vs Pakistan, Ms dhoni, On This Day, T20 World Cup, T20 World Cup 2022, Team india

Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.