हाइलाइट्स

जसप्रीत बुमराह साउथ अफ्रीका के खिलाफ टी-20 सीरीज से बाहर हो गए हैं.
बचपन में ही जसप्रीत बुमराह के पिता का देहांत हो गया था
विश्व के बेहतरीन गेंदबाजों में से एक हैं जसप्रीत बुमराह

नई दिल्ली. भारतीय क्रिकेट में कई ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्होंने कई मुसीबतों के बावजूद क्रिकेट में बड़ा नाम कमाया है. उनमें से एक नाम टीम इंडिया के स्टार गेंदबाज जसप्रीत बुमराह का भी है. बुमराह ने भी अपने करियर की शुरुआत से पहले कई मुसीबतों का सामना किया है. उन्होने एक इंटरव्यू में अपने संघर्ष भरे जीवन के बारे में बताया है.

जसप्रीत बुमराह चोट की वजह से साउथ अफ्रीका के खिलाफ टी-20 सीरीज से बाहर हो गए हैं. खबर है कि पीठ में दर्द के कारण तेज गेंदबाज आगामी टी-20 विश्व कप में भी नहीं नजर आएंगे. हालांकि, भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने बताया है कि बुमराह विश्व कप से पूरी तरह से अभी बाहर नहीं हुए हैं.

यह भी पढ़ें:पृथ्वी शॉ को गरबा सिखाने वाली कौन है ‘मिस्ट्री गर्ल’? सोशल मीडिया पर हो रहे खूबसूरत बाला के चर्चे

Womens Asia Cup में भारत का जीत से आगाज, एक खिलाड़ी पड़ी श्रीलंकाई टीम पर भारी

पिता के देहांत के बाद मां और बहन ने रखा ख्याल

जसप्रीत बुमराह विश्व के सर्वश्रेष्ठ तेज गेंदबाजों में से एक हैं. लेकिन यह बात काफी कम लोगो को पता है कि उनका बचपन मुश्किलों से भरा हुआ था. बुमराह ने अपने बचपन में ही पिताजी को खो दिया था. पिता के देहांत के बाद उनकी मां दलजीत और बड़ी बहन ने उनका ख्याल रखा.

‘मेरे लिए सबसे पहले क्रिकेट था’

GQ के साथ हुए इंटरव्यू में बातचीत के दौरान जसप्रीत बुमराह ने बताया कि, ‘मुझे पता था कि मुझे आगे क्या करना है. मेरी फैमिली ने कभी भी क्रिकेट को ज्यादा प्राथमिकता नहीं दी क्योंकि हम लोगों की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं थी. मेरी मां को लगता था कि क्रिकेट में भविष्य बनाना सही नहीं है. लेकिन मेरे लिए क्रिकेट सबसे पहले था.’

उन्होंने आगे कहा, ‘मेरी मां ने क्रिकेट के बारे में कभी बात नहीं की क्योंकि वह नहीं चाहती थी कि मैं इस फील्ड में आगे जाऊं. लेकिन उन्होंने मुझे कभी किसी चीज और चीज के लिए जबरदस्ती नहीं की. उन्होंने कभी मुझसे यह नहीं कहा कि तुम्हें डॉक्टर या इंजीनियर बनना चाहिए.’

Tags: Ind vs sa, Jasprit Bumrah, T20 Series

Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.