हाइलाइट्स

भारत-इंग्लैंड टी20 सीरीज 1-1 से हुई बराबर
आखिरी मुकाबला हुआ फाइनल मुकाबला
ब्रिस्टल में खेला जाएगा तीसरा टी20 मुकाबला

नई दिल्ली. भारतीय कप्तान हरमनप्रीत कौर (Harmanpreet Kaur) का मानना ​​है कि आत्मविश्वास और गणनात्मक दृष्टिकोण ने इंग्लैंड के खिलाफ यहां दूसरे टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में आठ विकेट की जीत से तीन मैच की श्रृंखला 1-1 से बराबर कराने में मदद की. पहले मैच में निराशाजनक हार के बाद भारत ने वापसी करते हुए मनोबल बढ़ाने वाली जीत हासिल की जिससे सभी की नजरें अब ब्रिस्टल में गुरुवार को होने वाले श्रृंखला के निर्णायक मुकाबले पर टिकी हैं. हरनमप्रीत ने मंगलवार रात मैच के बाद कहा, ‘मैं बेहद खुश हूं, हमने अच्छा खेल दिखाया. हर कोई आज जीतने की उम्मीद कर रहा था, यही वह चीज है जिससे मैं खुश हूं. हमारे पास सभी बल्लेबाजों के लिए योजनाएं हैं लेकिन यह महत्वपूर्ण है कि हम उन्हें लागू करें. क्षेत्ररक्षकों ने गेंदबाजों का अच्छी तरह से समर्थन किया.’’

उन्होंने कहा, ‘‘हम एक क्षेत्ररक्षण टीम के रूप में सुधार कर रहे हैं. राधा ने जिस तरह से क्षेत्ररक्षण किया, वह पिछले मैच में चोटिल हो गई थी. मैं आज उसके प्रयास से खुश हूं. जब भी हम (स्वयं और स्मृति) एक साथ बल्लेबाजी करते हैं तो हमारे पास आत्मविश्वास होता है, हम गणना कर सकते हैं कि क्या रुख अपनाना है, दाएं-बाएं हाथ की बल्लेबाजों का संयोजन हमेशा हमारे लिए सकारात्मक होता है.’’ सलामी बल्लेबाज स्मृति मंधाना ने 53 गेंद में नाबाद 79 रन की शानदार पारी खेली जिससे भारत ने महत्वपूर्ण जीत हासिल करते हुए श्रृंखला बराबर की.

यह भी पढ़ें- विराट-सूर्यकुमार के बीच पहले ठनी, अब बढ़ रही है मिठास, कोहली ने कुछ इस तरह दी जन्मदिन की बधाई

स्मृति ने कहा, ‘‘हमने मजबूत वापसी और श्रृंखला को बराबर करने के लिए उत्सुक थे. मैं खुद पर जोर डाल रही थी और खुश हूं कि मैं जीत में योगदान दे सकी. राष्ट्रमंडल खेलों से पहले (इंग्लैंड में) बल्लेबाजी करने के लिए अच्छा मौसम था, मुझे लगता है कि मैंने लय हासिल की है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘टी20 क्रिकेट में आप टीम को अच्छी शुरुआत देने की कोशिश करते हैं। टीम में योगदान देने पर खुशी होती है.’’

स्मृति ने अपनी सलामी जोड़ीदार शेफाली वर्मा की प्रशंसा की जिनके साथ उन्होंने पहले विकेट के लिए 55 रन जोड़े जिससे भारत के लिए लक्ष्य हासिल करना आसान हो गया. उन्होंने कहा, ‘‘यह दिन और गेंदबाजों पर निर्भर करता है. दो साल पहले वह (शेफाली) शायद सिर्फ हावी होने की कोशिश कर रही थी लेकिन अब वह जानती है कि किसे निशाना बनाना है और अच्छी गेंदबाजी का सम्मान करना है. अच्छी बात यह है कि हम दोनों बल्लेबाजी पावरप्ले का फायदा उठा सकते हैं. जो भी अच्छी लय में होता है तो वह फायदा उठाता है.’’

Tags: Harmanpreet kaur, India Women, India Women vs England Women

Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.