नई दिल्ली. पूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर ने केएल राहुल की तारीफ करते हुए उन्हें अपनी बल्लेबाजी में सुधार के लिए एक सलाह दी है. राहुल पिछले महीने जिम्बाब्वे के खिलाफ लंबे ब्रेक के बाद क्रिकेट में वापस लौटे थे. आईपीएल 2022 के बाद वह पहले चोट और फिर कोरोना से जूझ रहे थे. लंबे समय तक क्रिकेट से दूर रहने के बाद वह अभी टॉप फॉर्म में नहीं हैं. जिम्बाब्वे के खिलाफ दो मैचो में उन्होंने बल्लेबाजी की, लेकिन खास रन नहीं बना सके. इसके बाद एशिया कप 2022 में भी पाकिस्तान के खिलाफ वह गोल्डन डक हो गए. दूसरे मैच में हॉन्ग कॉन्ग के खिलाफ उन्होंने बेहद धीमी पारी खेली.

केएल राहुल का इसी साल जून में स्पोर्ट्स हर्निया का ऑपरेशन हुआ था. वापसी करने के बाद उन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में अबतक चार पारियां खेली हैं, लेकिन महत्वपूर्ण योगदान देने में विफल रहे हैं. एशिया कप 2022 में हॉन्ग कॉन्ग के खिलाफ उन्होंने 39 गेंदों में 36 रन की पारी खेली. राहुल की फॉर्म को लेकर गौतम गंभीर का कहना है कि राहुल को अपनी क्षमताओं का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने और टी20 क्रिकेट में अधिक स्वतंत्र रूप से खेलने की जरूरत है.
भारत का सबसे कंजूस क्रिकेटर कौन? जानें शिखर धवन ने लिया किस खिलाड़ी का नाम

गौतम गंभीर ने कहा कि केएल में काफी क्षमता है, वास्तव में भारतीय कप्तान रोहित शर्मा से भी ज्यादा, और उन्हें किसी को कुछ भी साबित करने की जरूरत नहीं है. गंभीर ने स्टार स्पोर्ट्स पर कहा, ”केएल राहुल में बहुत ज्यादा क्षमता है. मैं यह कहने में संकोच नहीं करूंगा कि इस ड्रेसिंग रूम में शायद उनके पास रोहित शर्मा से ज्यादा क्षमता है. उन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में ऐसा करके दिखाया है. यदि वह स्वतंत्र रूप से नहीं खेलते हैं तो केवल वह खुद को रोक सकते हैं.”

शाकिब अल हसन ने खूबसूरत बीवी के लिए कर दी बिजनेसमैन की पिटाई, देखें ‘ब्यूटी विद ब्रेन’ की तस्वीरें

उन्होंने कहा कि राहुल को खेल के सबसे छोटे प्रारूप में रुढ़िवादी तरीके से बल्लेबाजी नहीं करनी चाहिए. गंभीर ने कहा, ”उन्हें किसी को कुछ साबित करने की जरूरत नहीं है. आपने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट और आईपीएल में देखा है, आप केवल खुद को वापस पकड़ रहे हैं. बस खेलने जाओ. टी20 क्रिकेट इसलिए बनाया गया ताकि आप खुद को व्यक्त कर सकें.”

इस साल की शुरुआत में लखनऊ सुपर जायंट्स के लिए केएल राहुल को मेंटॉर करने वाले गंभीर को उम्मीद है कि राहुल क्रीज पर समय बिताकर आत्मविश्वास हासिल करेंगे और टूर्नामेंट के सुपर 4 चरण में अधिक आक्रामक बल्लेबाजी करेंगे. उन्होंने कहा, ”चाहे आप 39 गेंदें खेलें या नौ गेंदें, दो बड़े शॉट आपको 39 गेंद खेलने से ज्यादा आत्मविश्वास देते हैं. मुझे उम्मीद है कि इन 39 गेंदों की वजह से वह आने वाले मैचों में खुलकर खेलेंगे, क्योंकि इस खिलाड़ी में इतनी क्षमता है.”

Tags: Asia cup, Gautam gambhir, KL Rahul, Rohit sharma

Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.