हाइलाइट्स

इंग्लैंड की द.अफ्रीका पर जीत के बाद WTC Points table में हुआ बदलाव
विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप के फाइनल की रेस में अब 6 टीमों के बीच दिलचस्प जंग

नई दिल्ली. इंग्लैंड ने दक्षिण अफ्रीका को ओवल में खेले गए 3 टेस्ट की सीरीज के तीसरे और आखिरी मुकाबले में 9 विकेट से हरा दिया. इसके साथ ही मेजबान इंग्लैंड ने यह सीरीज 2-1 से अपने नाम कर ली. इस टेस्ट के पहले 2 दिन बारिश की भेंट चढ़ गए थे. ओवल टेस्ट तीसरे दिन शुरू हुआ था और 5वें दिन पहले ही सेशन में इंग्लैंड जीत गया. यानी 2 दिन में ही इंग्लैंड ने दक्षिण अफ्रीका को हरा दिया. इस टेस्ट में सिर्फ 151.3 ओवर ही फेंके जा सके. यह इंग्लैंड में खेले गया चौथा सबसे छोटा टेस्ट मैच रहा. इंग्लैंड की दक्षिण अफ्रीका पर इस शानदार जीत के बाद वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप के पॉइंट्स टेबल (ICC World Test Championship Points Table) में भी बदलाव हुआ है.

वैसे, तो इंग्लैंड के खिलाफ मैनचेस्टर में हुए दूसरे टेस्ट को गंवाने के बाद ही दक्षिण अफ्रीका की टीम विश्व टेस्ट चैम्पिय़नशिप के पॉइंट्स टेबल में पहले स्थान से फिसलकर दूसरे पायदान पर आ गई थी. तब दक्षिण अफ्रीकी टीम के 66.67 पर्सेंटेज पॉइंट थे. इंग्लैंड से तीसरा टेस्ट हारने के बाद भी वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप के पॉइंट्स टेबल में दक्षिण अफ्रीका दूसरे स्थान पर बना हुआ है. लेकिन इसके पर्सेंटेज पॉइंट घट गए हैं. दक्षिण अफ्रीका के खाते में अब 60 प्रतिशत अंक हैं.

साउथ अफ्रीका और तीसरे, चौथे और पांचवें पायदान पर मौजूद श्रीलंका (53.33%), भारत (52.08%) और पाकिस्तान (51.85%) के बीच बहुत ज्यादा अंतर नहीं रह गया है. ऑस्ट्रेलिया 70 पर्सेंजेट पॉइंट के साथ टॉप पर बना हुआ है और उसके 2023 में होने वाले फाइनल में पहुंचने की राह आसान है. लेकिन, फाइनल की रेस में अभी भी 6 टीमें बनी हुई हैं. इसमें दक्षिण अफ्रीका, श्रीलंका, भारत, पाकिस्तान और वेस्टइंडीज भी शामिल हैं.

भारत के पास फाइनल में पहुंचने का मौका
रोहित शर्मा की टीम इंडिया 52.08 प्रतिशत अंकों के साथ चौथे पायदान पर है. भारत के खाते में 5 पेनल्टी पॉइंट्स भी हैं. वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप की पहली साइकिल में रनर-अप रहे भारत के पास भी इस बार फाइनल में जगह बनाने के लिए मौका है. भारत को बांग्लादेश के खिलाफ उसके घर में 2 टेस्ट खेलने हैं. वहीं, अगले साल 4 टेस्ट की सीरीज के लिए ऑस्ट्रेलिया की मेजबानी करनी है. यानी भारत को कुल मिलाकर 6 टेस्ट खेलने हैं. अगर टीम इंडिया ने इन सभी 6 टेस्ट में जीत हासिल कर लेती है तो उसका जीत प्रतिशत 68.05 हो जाएगा. ऐसे में उसके फाइनल में पहुंचने की उम्मीद मजबूत हो जाएगी.

पाकिस्तान से मिल सकती है भारत को चुनौती

भारत को फाइनल की रेस में पाकिस्तान से बड़ी चुनौती मिल सकती है. फिलहाल, पाकिस्तान के खाते में 51.85 पर्सेंटेज पॉइंट हैं और अंक तालिका में टीम 5वें स्थान पर है. पाकिस्तान के लिए अच्छी बात यह है कि उसे बाकी बचे पांचों टेस्ट घर में ही खेलने हैं. पाकिस्तान को इंग्लैंड के खिलाफ 3 और न्यूजीलैंड के खिलाफ 2 टेस्ट की घरेलू सीरीज खेलनी है. अगर पाकिस्तान की टीम यह पांचों टेस्ट जीत जाती है, तो उसके पर्सेंजेट पॉइंट 69.05% हो जाएंगे, जो उसके विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप के फाइनल में पहुंचने के लिए काफी साबित हो सकते हैं. बाबर आजम की अगुआई वाली पाकिस्तान टीम बाकी बचे टेस्ट मैच को हारने का जोखिम नहीं उठा सकती, क्योंकि हर टेस्ट गंवाने के साथ ही उसके टॉप-2 में बने रहने की उम्मीदें कमजोर होती जाएंगी.

Analysis: कोहली और राहुल से अधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज वर्ल्ड कप टीम में नहीं, पढ़ें पूरी डिटेल

युवा जोश नहीं, अनुभव पर खेला सेलेक्टर्स ने दांव; जानें टी20 WC की टीम सेलेक्शन की 5 बड़ी बातें

श्रीलंका का क्या हाल है?
श्रीलंका की टीम फिलहाल, विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप के पॉइंट्स टेबल में 53.33% पर्सेंटेज पॉइंट के साथ तीसरे स्थान पर है. उसके पास भी फाइनल में पहुंचने का मौका है. लेकिन, उसे दो ही टेस्ट खेलने हैं. वो भी न्यूजीलैंड के खिलाफ उसके घर में. जहां उसका रिकॉर्ड खराब है. न्यूजीलैंड में सीरीज जीत के साथ श्रीलंका अधिकतम 61.1% पर्सेंटेज पॉइंट तक पहुंच सकती है. यानी 2 टेस्ट की सीरीज जीतने के बाद भी श्रीलंका के भारत से आगे नहीं निकल पाएगा. ऐसे में उसे बाकी टीमों के नतीजों पर निर्भर रहना पड़ेगा.

Tags: England vs south Africa, Pakistan, Sri lanka, Team india, World test championship, WTC

Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.