हाइलाइट्स

अश्विन ने मीडिया में चल रहे कुछ आर्टिकल पर जवाब दिया है.
रवि अश्विन खुद को ओवरथिंकर कहे जाने पर खुश नहीं हैं.

नई दिल्ली. भारत के ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने ट्विटर पर एक के बाद एक कई ट्वीट किए, जिसमें उन्हें साफतौर पर लिखा है कि उनके साथियों के साथ उन्हें कोई परेशानी नहीं है. उनके संबंध अपने साथ बिल्कुल भी वैसे नहीं हैं, जैसा मीडिया में बताया जा रहा है. अश्विन ने हाल के दिनों में अपना काफी समय बेंच पर बिताया है. यह तब से देखने को मिला था, जब भारत ने 2021 में विराट कोहली की अगुआई में इंग्लैंड का दौरा किया था. इसके बाद से अश्विन कई बार टीम का हिस्सा होने के बाद भी बेंच पर ही रहे. ऐसे में फैन्स ने सोशल मीडिया पर अश्विन के साथी क्रिकेटरों और कोच के संबंधों को खराब करार दिया था.

सोशल मीडिया पर चल रहे इन आरोपों पर अब रविचंद्रन अश्विन ने बांग्लादेश दौरे के बाद सफाई दी है. बांग्लादेश के खिलाफ अपनी मैच जिताने वाली पारी के कुछ घंटों बाद ट्विटर अश्विन ने कई ट्वीट किए. अश्विन ने खुद को ओवरथिंकर कहा और बताया कि जब खेल की बारीकियों के बारे में बात करने की बात आती है तो वह बेबाक क्यों रहते हैं. साथ ही उन्होंने डिस्क्लेमर के साथ अंतिम ट्वीट किया, जिसमें उन्होंने मीडिया रिपोर्ट्स को बेबुनियाद बताया है.

शाहिद अफरीदी बने चीफ सेलेक्टर तो पूर्व स्पिनर ने उड़ाया मजाक, शेयर की शर्मनाक फोटो

अश्विन ने ट्वीट किया, ”मुझे किसी सहकर्मी या किसी के साथ कोई समस्या नहीं है और यह केवल कुछ लेखों के जवाब में है, जो मैंने पढ़े हैं. मुझे यह समझने में 13 साल लग गए कि यह शब्द मेरे साथ जुड़ा रहेगा. आशा है कि इन ट्वीट्स को पढ़ने वाले कुछ युवाओं को आने वाले सालों में फायदा मिल सकता है.”

इससे पहले अश्विन ने खुलासा किया कि वह एक ओवरथिंकर रहे हैं और चाहते हैं कि वह अपना रवैया बदल सकें. उन्होंने लिखा, ”ओवरथिंकिंग… एक ऐसी धारणा है जो मेरे साथ तब से है, जब मैंने भारतीय जर्सी को गर्व के साथ पहना था. मैंने इसके बारे में कुछ समय के लिए विचार किया है और मुझे विश्वास है कि मुझे लोगों के दिमाग से उस शब्द को मिटाने के लिए एक पीआर प्रैक्टिस पर गंभीरता से विचार करना चाहिए था.”

IPL 2023: सनराइजर्स हैदराबाद ने जिस पर खर्च किए करोड़ों, उसकी गर्लफ्रेंड की स्माइल पर आप भी हो जाएंगे फिदा

उन्होंने कहा, ”हर शख्स का सफर खास होता है. कुछ इसके बारे में ज्यादा सोचते हैं तो कुछ के लिए यह आसान होता है. जब भी मुझे ओवरथिंकर कहा जाता है तो मुझे लगता है कि मैं इसी तरह का क्रिकेट खेलता हूं. लेकिन दूसरों को इस तरह का क्रिकेट खेलने की सलाह नहीं देता हूं.”

News18 Hindi

बता दें कि अश्विन ने भारत को जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई. भारत ढाका में दूसरे टेस्ट मैच में बांग्लादेश के खिलाफ निश्चित रूप से हार का सामना कर रहा था. भारत 145 रनों का पीछा करते हुए 74/7 पर था, जब अश्विन आए और अपने बल्ले का कमाल दिखाया. जीत का मतलब है कि भारत ने विश्व टेस्ट चैंपियनशिप में सीधे फाइनल में पहुंचने की अपनी संभावनाओं को मजबूत कर लिया है.

Tags: India vs Bangladesh, R ashwin, Ravichandra Ashwin, Team india

Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.