नई दिल्ली. अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) ने भारत के अंपायर नितिन मेनन को आईसीसी के एलीट पैनल में बरकरार रखा है. वह इस महीने के अंत में पहली बार श्रीलंका में तटस्थ अंपायर के रूप में अपनी सेवाएं देंगे. ऑस्ट्रेलिया और श्रीलंका के बीच खेली जाने वाली टेस्ट सीरीज में वह अंपारिंग करते नजर आएंगे.

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के एक अधिकारी ने पीटीआई को बताया कि आईसीसी ने मेनन का एलीट पैनल में कार्यकाल एक साल के लिए बढ़ाया है. इंदौर के 38 वर्षीय मेनन एलीट पैनल के 11 सदस्यों में अकेले भारतीय हैं. अधिकारी ने कहा, ‘आईसीसी ने हाल में मेनन का कार्यकाल एक साल के लिए बढ़ा दिया है. वह पिछले 3-4 वर्षों में हमारे प्रमुख अंपायर रहे हैं. वह इस महीने के आखिर में तटस्थ अंपायर के रूप में पदार्पण करेंगे.’

मेनन को 2020 में कोविड-19 महामारी की शुरुआत में एलीट पैनल में शामिल किया गया था. वह एस वेंकटराघवन और एस रवि के बाद एलीट पैनल में शामिल होने वाले तीसरे भारतीय अंपायर बने थे.
मेनन हालांकि भारत में ही अंतरराष्ट्रीय मैचों में अंपायरिंग कर पाए थे, क्योंकि आईसीसी ने स्थानीय अंपायरों को यात्रा प्रतिबंधों के कारण घरेलू श्रृंखला के मैचों में अंपायरिंग की अनुमति दी थी.

यह भी पढ़ें

राहुल त्रिपाठी को पहली बार टीम इंडिया में मिला मौका… बोले- यह सपने के सच होने जैसा है

‘पहली बार मेरे मन में संन्यास का विचार उस समय आया जब राहुल द्रविड़ ने क्रिकेट को अलविदा कहा था’

नितिन मेनन का रिकॉर्ड
नितिन मेनन के पास अनुभव भले कम हो लेकिन वह बहुत कम समय में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बेहतरीन अंपायर की छवि बनाने में सफल रहे. उनके द्वारा दिए गए निर्णय बहुत कम बदले जाते हैं. वह 68 अंतरराष्ट्रीय मैचों में अंपायरिंग कर चुके हैं. नितिन मेनन ने 11 टेस्ट, 30 वनडे और 27 टी20 इंटरनेशनल मैचों में अंपायरिंग की है. इसके अलावा वह कई साल से इंडियन प्रीमियर लीग में अंपायरिंग कर रहे हैं.

Tags: Australia, Nitin Menon, Sri lanka

Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.